Scam 2003: इस अभिनेता को मिला 20 हजार करोड़ के घोटाले का मास्टरमाइंड बनने का मौका, हंसल नहीं करेंगे निर्देशन

By | May 24, 2022


सार

‘स्कैम 2003’ महाराष्ट्र के चर्चित स्टांप घोटाले पर आधारित है और ये सीरीज पत्रकार संजय सिंह की किताब ‘रिपोर्टर की डायरी’ में दर्ज किस्सों के हिसाब से बन रही है।

ख़बर सुनें

निर्देसक हंसल मेहता की कामयाब सीरीज ‘स्कैम 1992’ की अगली कड़ी ‘स्कैम 2003’ की शूटिंग अब जाकर शुरू होने वाली है। पिछले साल मार्च में घोषित हुई इस सीरीज के लिए हंसल मेहता ने अपनी पिछली सीरीज की तरह ही एक नया चेहरा खोज निकाला है। ‘स्कैम 1992’ को इसमें लीड रोल करने वाले प्रतीक गांधी के अभिनय से बहुत मदद मिली और वह रातोंरात डिजिटल स्टार भी बन गए। अब हंसल मेहता ने फिर से अपनी नई सीरीज के लिए रंगमंच का रुख किया और महीनों की खोजबीन के बाद अपनी नई सीरीज ‘स्कैम 2003’ के लिए एक नया चेहरा खोज निकाला है। इस बीच इस सीरीज में नया मोड़ ये आया है कि इस सीरीज का निर्माण सोनी एंटरटेनमेंट की प्रोडक्शन कंपनी स्टूडियो नेक्स्ट करेगी और हंसल मेहता अब इस सीरीज के निर्देशक न होकर सिर्फ शो रनर रहेंगे।

‘स्कैम 2003’ महाराष्ट्र के चर्चित स्टांप घोटाले पर आधारित है और ये सीरीज पत्रकार संजय सिंह की किताब ‘रिपोर्टर की डायरी’ में दर्ज किस्सों के हिसाब से बन रही है। अपने एलान के वक्त इस सीरीज का नाम था, ‘स्कैम 2003: द क्यूरियस केस ऑफ अब्दुल करीम तेलगी’। अब ये सीरीज ‘स्कैम 2003: द तेलगी स्टोरी’ के नाम से जानी जाएगी। येकहानी है उस कुख्यात अब्दुल करीम तेलगी की जिसने देश में फर्जी स्टाम्प पेपर आपूर्ति करने का पूरा नेटवर्क तैयार कर लिया था और करेंसी छापने वाली एक पुरानी प्रिटिंग मशीन को कबाड़ में खरीदकर अपना एक कारखाना भी महाराष्ट्र में लगा लिया था।

इस मामले की जांच के दौरान उस समय के एक सुपरस्टार की पत्नी और सूबे के एक कद्दावर नेता का नाम भी जांच में सामने आया था। ये नेता महाराष्ट्र की सत्ताशीन पार्टी में किसी न किसी तरह शामिल हो जाने के लिए जाना जाता है। कर्नाटक के खानापुर में पैदा हुए अब्दुल करीम तेलगी ने अपना शातिर दिमाग लगाकर जो ये अनोखा घोटाला किया था उसमें 20 हजार करोड़ रुपये का फर्जीवाड़ा पाया गया था। इस सीरीज को लिखने के लिए मराठी सिनेमा के चर्चित लेखक यज्ञोपवीत को साइन किया गया है। संजय सिंह भी लेखन टीम का हिस्सा रहेंगे। सीरीज का निर्देशन अब तुषार हीरानंदानी करेंगे।

सीरीज में तेलगी का रोल निभाने के रंगमंच कलाकार गगन देव रियार का नाम फाइनल किया गया है और उनका पहला लुक भी मंगलवार को जारी कर दिया गया। सीरीज के एलान के वक्त हंसल मेहता इसकी शूटिंग बीते साल ही शुरू करने वाले थे। तब उनका कहना था, ‘एक और घोटाले की कहानी दर्शकों के सामने लाने के लिए मैं अभी से बहुत उत्साहित हूं। देशवासियों की अतीत की इन आर्थिक अपराध कथाओं में बहुत दिलचस्पी है ये बात हर्षद मेहता पर बनी सीरीज से साबित हो चुकी है। अब हम सब मिलकर एक नई कहानी पर काम शुरू करने जा रहे हैं और मैं इस प्रोजेक्ट को लेकर बहुत उत्साहित हूं।’

हंसल मेहता ने ही अभिनेता प्रतीक गांधी की किस्मत बदल देने वाली वेब सीरीज ‘स्कैम 1992’ बनाई थी। इसकी गिनी हिंदी मनोरंजन जगत की सबसे अच्छी क्राइम वेब सीरीज में होती है। देश में हुए सबसे बड़े शेयर घोटाले की इस कहानी को हकीकत के काफी करीब रखते हुए निर्देशक हंसल मेहता ने ओटीटी पर एक नया ट्रेंड भी शुरू किया। तेलगी घोटाले की सीबीआई जांच करने वाले देश के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी रहे अरुण कुमार से भी कुछ निर्माताओं ने मुलाकात की थी। लेकिन, सोनी लिव की सीरीज इस घोटाले की महाराष्ट्र पुलिस की जांच पर ज्यादा केंद्रित रहेगी।

विस्तार

निर्देसक हंसल मेहता की कामयाब सीरीज ‘स्कैम 1992’ की अगली कड़ी ‘स्कैम 2003’ की शूटिंग अब जाकर शुरू होने वाली है। पिछले साल मार्च में घोषित हुई इस सीरीज के लिए हंसल मेहता ने अपनी पिछली सीरीज की तरह ही एक नया चेहरा खोज निकाला है। ‘स्कैम 1992’ को इसमें लीड रोल करने वाले प्रतीक गांधी के अभिनय से बहुत मदद मिली और वह रातोंरात डिजिटल स्टार भी बन गए। अब हंसल मेहता ने फिर से अपनी नई सीरीज के लिए रंगमंच का रुख किया और महीनों की खोजबीन के बाद अपनी नई सीरीज ‘स्कैम 2003’ के लिए एक नया चेहरा खोज निकाला है। इस बीच इस सीरीज में नया मोड़ ये आया है कि इस सीरीज का निर्माण सोनी एंटरटेनमेंट की प्रोडक्शन कंपनी स्टूडियो नेक्स्ट करेगी और हंसल मेहता अब इस सीरीज के निर्देशक न होकर सिर्फ शो रनर रहेंगे।



Source link