Safe City Project: दिल्ली पुलिस के सेफ सिटी प्रोजेक्ट को बढ़ावा देगा रेलटेल, सीसीटीवी निगरानी के लिए खर्च किया जाएगा 220.55 करोड़

By | May 24, 2022


सार

सुरक्षित दिल्ली के लिए दिल्ली पुलिस को रेलटेल सहयोग करेगा। दिल्ली में महिला सुरक्षा बढ़ाने के प्रयास के तहत आर्टिफिशियल इंटेलेजेंस का सहारा लिया जा रहा है। इस कड़ी में रेलटेल के सहयोग से तीन फेज में काम किया जाएगा। 

ख़बर सुनें

दिल्ली पुलिस अब और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस होगी। हाई स्पीड बैंडविड्थ मिलेगा। जिससे  दिल्ली पुलिस के सेफ सिटी प्रोजेक्ट को बढ़ावा मिलेगा और दिल्ली में महिला सुरक्षा योजना को बल मिलेगा। इस योजना पर सीसीटीवी निगरानी के लिए 220.55 करोड़ रुपये खर्च किया जाएगा।

सुरक्षित दिल्ली के लिए दिल्ली पुलिस को रेलटेल सहयोग करेगा। दिल्ली में महिला सुरक्षा बढ़ाने के प्रयास के तहत आर्टिफिशियल इंटेलेजेंस का सहारा लिया जा रहा है। इस कड़ी में रेलटेल के सहयोग से तीन फेज में काम किया जाएगा। जिसमें दिल्ली के कुल 16 पुलिस जिलों में 182 पुलिस स्टेशन और 3351 जगहों पर मल्टी-प्रोटोकॉल लेबल स्विचिंग (एमपीएलएस) और इंटरनेट बैंडविड्थ मिलेगा। इसमें दिल्ली पुलिस मुख्यालय, इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल कम्युनिकेशन सेंटर, जिला मुख्यालय, डेटा सेंटर, डिजास्टर रिकवर सेंटर, व्यूइंग कंट्रोल सेंटर से कनेक्टिविटी भी दी जाएगी।

रेलटेल के प्रबंध निदेशक अरुणा सिंह ने बताया कि रेलटेल एक प्रमुख सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) उपलब्ध कराता है। उच्चगति एमपीएलएस और इंटरनेट बैंडविड्थ प्रदान करने में विशेषज्ञता भी है। इससे दिल्ली पुलिस के सेफ सिटी प्रोजेक्ट को बढ़ावा मिलेगा। सीसीटीवी निगरानी प्रणाली के कार्यान्वयन के लिए करीब 70 जीबीपीएस एमपीएलएस इंटरनेट बैंडविड्थ प्रदान करने के लिए 220.55 करोड़ रुपये का कार्य आदेश मिला है। 

रेलटेल ने यह ऑर्डर सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग (सी-डैक) के माध्यम से हासिल किया है, जिसे दिल्ली पुलिस ने अपने ‘सेफ सिटी प्रोजेक्ट’ के लिए टोटल सर्विस प्रोवाइडर (टीएसपी) के रूप में लगाया है। दिल्ली में महिला सुरक्षा बढ़ाने के प्रयासों के तहत दिल्ली पुलिस ने दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर सुरक्षा के लिए विभिन्न विश्लेषणात्मक और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरणों से एक सुरक्षित शहर बनाएगा। 

विस्तार

दिल्ली पुलिस अब और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस होगी। हाई स्पीड बैंडविड्थ मिलेगा। जिससे  दिल्ली पुलिस के सेफ सिटी प्रोजेक्ट को बढ़ावा मिलेगा और दिल्ली में महिला सुरक्षा योजना को बल मिलेगा। इस योजना पर सीसीटीवी निगरानी के लिए 220.55 करोड़ रुपये खर्च किया जाएगा।

सुरक्षित दिल्ली के लिए दिल्ली पुलिस को रेलटेल सहयोग करेगा। दिल्ली में महिला सुरक्षा बढ़ाने के प्रयास के तहत आर्टिफिशियल इंटेलेजेंस का सहारा लिया जा रहा है। इस कड़ी में रेलटेल के सहयोग से तीन फेज में काम किया जाएगा। जिसमें दिल्ली के कुल 16 पुलिस जिलों में 182 पुलिस स्टेशन और 3351 जगहों पर मल्टी-प्रोटोकॉल लेबल स्विचिंग (एमपीएलएस) और इंटरनेट बैंडविड्थ मिलेगा। इसमें दिल्ली पुलिस मुख्यालय, इंटीग्रेटेड कमांड कंट्रोल कम्युनिकेशन सेंटर, जिला मुख्यालय, डेटा सेंटर, डिजास्टर रिकवर सेंटर, व्यूइंग कंट्रोल सेंटर से कनेक्टिविटी भी दी जाएगी।

रेलटेल के प्रबंध निदेशक अरुणा सिंह ने बताया कि रेलटेल एक प्रमुख सूचना और संचार प्रौद्योगिकी (आईसीटी) उपलब्ध कराता है। उच्चगति एमपीएलएस और इंटरनेट बैंडविड्थ प्रदान करने में विशेषज्ञता भी है। इससे दिल्ली पुलिस के सेफ सिटी प्रोजेक्ट को बढ़ावा मिलेगा। सीसीटीवी निगरानी प्रणाली के कार्यान्वयन के लिए करीब 70 जीबीपीएस एमपीएलएस इंटरनेट बैंडविड्थ प्रदान करने के लिए 220.55 करोड़ रुपये का कार्य आदेश मिला है। 

रेलटेल ने यह ऑर्डर सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग (सी-डैक) के माध्यम से हासिल किया है, जिसे दिल्ली पुलिस ने अपने ‘सेफ सिटी प्रोजेक्ट’ के लिए टोटल सर्विस प्रोवाइडर (टीएसपी) के रूप में लगाया है। दिल्ली में महिला सुरक्षा बढ़ाने के प्रयासों के तहत दिल्ली पुलिस ने दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर सुरक्षा के लिए विभिन्न विश्लेषणात्मक और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरणों से एक सुरक्षित शहर बनाएगा। 



Source link