Russia Hypersonic Missile: रूस ने अपनी नयी हाइपरसोनिक जिरकॉन मिसाइल का सफल परीक्षण किया, ध्वनि की गति से नौ गुना तेज

By | May 29, 2022


सार

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने इससे पहले कहा था कि जिरकॉन ध्वनि की गति से नौ (9) गुना तेज है और उसकी मारक क्षमता 1,000 किलोमीटर की है। पुतिन ने यह भी कहा था कि इस मिसाइल के सेना में शामिल होने के बाद रूसी सेना की क्षमता और बढ़ जाएगी।
 

ख़बर सुनें

यूक्रेन से युद्ध के बीच रूसी नौसेना ने शनिवार को अपने हाइपरसोनिक मिसाइल का एक और सफल परीक्षण किया। इस परीक्षण के जरिए रूसी सेना ने यूक्रेन के साथ जारी युद्ध के बीच लंबी दूरी तक मार करने वाली मिसाइल का प्रदर्शन किया है।

जिरकॉन क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण
रक्षा मंत्रालय ने कहा कि श्वेत सागर के नॉईन फ्लीट के एडमिरल गोर्शकोव ने बारेंट्स सागर में जिरकॉन क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया। मिसाइल ने 1,000 किलोमीटर की दूरी पर श्वते सागर में स्थित अपने निशाने को उड़ा दिया। यह जिरकॉन सीरीज के मिसाइल का ताजा परीक्षण है। यह मिसाइल अगले साल से सेवा में होगी।

जिरकॉन ध्वनि की गति से नौ गुना तेज
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने इससे पहले कहा था कि जिरकॉन ध्वनि की गति से नौ (9) गुना तेज है और उसकी मारक क्षमता 1,000 किलोमीटर की है। पुतिन ने यह भी कहा था कि इस मिसाइल के सेना में शामिल होने के बाद रूसी सेना की क्षमता और बढ़ जाएगी।

जिरकॉन का उद्देश्य रूसी क्रूजर, फ्रिगेट और पनडुब्बियों को मजबूत करना है और इसका इस्तेमाल दुश्मन के जहाजों और जमीनी लक्ष्यों दोनों के खिलाफ किया जा सकता है। यह रूस में हाइपरसोनिक मिसाइलों के विकास के तहत कई में से एक है।

रूसी अधिकारियों ने जिरकॉन की क्षमता के बारे में कहते हुए यह दावा किया कि मौजूदा मिसाइल रोधी प्रणालियों को रोकना असंभव है। गौरतलब है कि पुतिन ने पहले ही विरोधियों को चेतावनी देते हुए कहा था कि जिरकॉन से लैस रूसी युद्धपोत रूस को मिनटों के भीतर हमला करने की क्षमता देंगे। पुतिन ने यूक्रेन युद्ध में हस्तक्षेप करने पर पश्चिमी सहयोगी देशों को कड़ी चेतावनी दी है। 

विस्तार

यूक्रेन से युद्ध के बीच रूसी नौसेना ने शनिवार को अपने हाइपरसोनिक मिसाइल का एक और सफल परीक्षण किया। इस परीक्षण के जरिए रूसी सेना ने यूक्रेन के साथ जारी युद्ध के बीच लंबी दूरी तक मार करने वाली मिसाइल का प्रदर्शन किया है।

जिरकॉन क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि श्वेत सागर के नॉईन फ्लीट के एडमिरल गोर्शकोव ने बारेंट्स सागर में जिरकॉन क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया। मिसाइल ने 1,000 किलोमीटर की दूरी पर श्वते सागर में स्थित अपने निशाने को उड़ा दिया। यह जिरकॉन सीरीज के मिसाइल का ताजा परीक्षण है। यह मिसाइल अगले साल से सेवा में होगी।

जिरकॉन ध्वनि की गति से नौ गुना तेज

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने इससे पहले कहा था कि जिरकॉन ध्वनि की गति से नौ (9) गुना तेज है और उसकी मारक क्षमता 1,000 किलोमीटर की है। पुतिन ने यह भी कहा था कि इस मिसाइल के सेना में शामिल होने के बाद रूसी सेना की क्षमता और बढ़ जाएगी।

जिरकॉन का उद्देश्य रूसी क्रूजर, फ्रिगेट और पनडुब्बियों को मजबूत करना है और इसका इस्तेमाल दुश्मन के जहाजों और जमीनी लक्ष्यों दोनों के खिलाफ किया जा सकता है। यह रूस में हाइपरसोनिक मिसाइलों के विकास के तहत कई में से एक है।

रूसी अधिकारियों ने जिरकॉन की क्षमता के बारे में कहते हुए यह दावा किया कि मौजूदा मिसाइल रोधी प्रणालियों को रोकना असंभव है। गौरतलब है कि पुतिन ने पहले ही विरोधियों को चेतावनी देते हुए कहा था कि जिरकॉन से लैस रूसी युद्धपोत रूस को मिनटों के भीतर हमला करने की क्षमता देंगे। पुतिन ने यूक्रेन युद्ध में हस्तक्षेप करने पर पश्चिमी सहयोगी देशों को कड़ी चेतावनी दी है। 



Source link