Report: मई में भर्ती गतिविधियां 40 फीसदी बढ़ीं, दिल्ली और एनसीआर शीर्ष पर

By | June 4, 2022


ख़बर सुनें

नौकरी डॉट कॉम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सालाना आधार पर भर्ती गतिविधियां मई में 40 फीसदी बढ़ी हैं। इसमें सबसे ज्यादा मांग हॉस्पिटालिटी, खुदरा और रियल एस्टेट जैसे क्षेत्र में रहीं। ट्रैवल और हॉस्पिटालिटी में वृद्धि दर 357 फीसदी बढ़ी, जबकि खुदरा और रियल एस्टेट में 175 फीसदी व 141 फीसदी की तेजी रही। 

बीमा में 126 फीसदी बढ़ी मांग
बीमा में 126 एवं बैकिंग एंड फाइनेंशियल में 104 फीसदी की वृद्धि रही। शिक्षा क्षेत्र में 86 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। ऑटो के क्षेत्र में 69 और एफएमसीजी में 51 फीसदी ज्यादा भर्तियां रहीं। सूचना एवं प्रौद्योगिकी (आईटी) में 7 फीसदी की विकास दर रही। शीर्ष 5 आईटी कंपनियों ने वित्तवर्ष 2021-22 में 1.8 लाख नए लोगों की भर्ती कीं।

कोलकाता में 59 फीसदी बढ़ी भर्ती
ज्यादा मांग वाले शहरों में दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) रहे जहां 63 फीसदी की वृद्धि रही। 61 फीसदी के साथ मुंबई दूसरे नंबर पर रहा। कोलकाता में 59 और चेन्नई में 35 फीसदी की तेजी रही। पुणे, बंगलुरू व हैदराबाद में दो अंकों से ज्यादा की बढ़त रही। 

उभरते हुए शहरों में भी बढ़ी मांग
 उभरते हुए शहरों में जयपुर सबसे आगे रहा। यहां भर्ती में 76 फीसदी की तेजी रही जबकि कोयंबतूर और वड़ोदरा में 64 और 49 फीसदी की वृद्धि देखी गई। अहमदाबाद में 26 और चंडीगढ़ में 25 फीसदी की वृद्धि रही।

शून्य से तीन साल अनुभव वाले कर्मचारियों की ज्यादा मांग रही। इनकी भर्ती में 61 फीसदी की बढ़त देखी गई। ज्यादा अनुभव वाले कर्मचारियों की काफी कम मांग है। कंपनियों का मानना है कि पुराने कर्मचारियों के लगातार संस्थान छोड़ने की वजह से वे लागत को घटाने के लिए फ्रेशर्स की ज्यादा भर्ती कर रही हैं।

विस्तार

नौकरी डॉट कॉम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सालाना आधार पर भर्ती गतिविधियां मई में 40 फीसदी बढ़ी हैं। इसमें सबसे ज्यादा मांग हॉस्पिटालिटी, खुदरा और रियल एस्टेट जैसे क्षेत्र में रहीं। ट्रैवल और हॉस्पिटालिटी में वृद्धि दर 357 फीसदी बढ़ी, जबकि खुदरा और रियल एस्टेट में 175 फीसदी व 141 फीसदी की तेजी रही। 

बीमा में 126 फीसदी बढ़ी मांग

बीमा में 126 एवं बैकिंग एंड फाइनेंशियल में 104 फीसदी की वृद्धि रही। शिक्षा क्षेत्र में 86 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। ऑटो के क्षेत्र में 69 और एफएमसीजी में 51 फीसदी ज्यादा भर्तियां रहीं। सूचना एवं प्रौद्योगिकी (आईटी) में 7 फीसदी की विकास दर रही। शीर्ष 5 आईटी कंपनियों ने वित्तवर्ष 2021-22 में 1.8 लाख नए लोगों की भर्ती कीं।

कोलकाता में 59 फीसदी बढ़ी भर्ती

ज्यादा मांग वाले शहरों में दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) रहे जहां 63 फीसदी की वृद्धि रही। 61 फीसदी के साथ मुंबई दूसरे नंबर पर रहा। कोलकाता में 59 और चेन्नई में 35 फीसदी की तेजी रही। पुणे, बंगलुरू व हैदराबाद में दो अंकों से ज्यादा की बढ़त रही। 

उभरते हुए शहरों में भी बढ़ी मांग

 उभरते हुए शहरों में जयपुर सबसे आगे रहा। यहां भर्ती में 76 फीसदी की तेजी रही जबकि कोयंबतूर और वड़ोदरा में 64 और 49 फीसदी की वृद्धि देखी गई। अहमदाबाद में 26 और चंडीगढ़ में 25 फीसदी की वृद्धि रही।

शून्य से तीन साल अनुभव वाले कर्मचारियों की ज्यादा मांग रही। इनकी भर्ती में 61 फीसदी की बढ़त देखी गई। ज्यादा अनुभव वाले कर्मचारियों की काफी कम मांग है। कंपनियों का मानना है कि पुराने कर्मचारियों के लगातार संस्थान छोड़ने की वजह से वे लागत को घटाने के लिए फ्रेशर्स की ज्यादा भर्ती कर रही हैं।



Source link