PM Modi Visit: पीएम मोदी आज जाएंगे चेन्नई और हैदराबाद, करेंगे कई परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन

By | May 26, 2022


सार

पीएम मोदी हैदराबाद का भी दौरा करेंगे यहां इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी) के 20वें स्थापना दिवस समारोह में शरीक होंगे।

ख़बर सुनें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज चेन्नई और हैदराबाद का दौरा करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी चेन्नई (Chennai) में 31,400 करोड़ रुपये से ज्यादा की ग्यारह परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे और उन्हें राष्ट्र के नाम समर्पित करेंगे। इसके लिए आज चेन्नई के जेएलएन इंडोर स्टेडियम में विशेष कार्यक्रम का आयोजन होगा।

इन परियोजनाओं की कुल लागत 31,400 करोड़ रुपये आंकी गई है। इनमें रेल, सड़क, बंदरगाह विकास से जुड़ी परियोजनाएं प्रमुख हैं। पीएम मोदी हैदराबाद में इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी) के 20वें स्थापना दिवस समारोह में शरीक होंगे। उल्लेखनीय है कि 20 वर्ष पहले दो दिसंबर, 2001 को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने आईएसबी का उद्घाटन किया था, आज यह देश के प्रमुख प्रबंधन संस्थानों में शामिल है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 मई को शाम 5.10 बजे हैदराबाद से चैन्नई पहुंचेंगे। प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू बहुउद्देश्यीय इंडोर स्टेडियम में होने वाले कार्यक्रमों की शुभारंभ करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी कई विभिन्न रेलवे, राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं और केंद्र सरकार की कई परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे। शाम 7.40 बजे पीएम नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे। 

पिछले साल अन्नाद्रमुक को मात देकर द्रमुक के सत्ता संभालने के बाद से प्रधानमंत्री मोदी का यह पहला आधिकारिक दौरा है। प्रधानमंत्री 2,960 करोड़ रुपये की लागत से तैयार पांच परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर तमिलनाडु के राज्यपाल आर एन रवि, मुख्यमंत्री एम के स्टालिन, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और अश्विनी वैष्णव भी मौजूद रहेंगे।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक, दक्षिण तमिलनाडु में 500 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से तैयार 75 किलोमीटर लंबी मदुरै-टेनी (रेलवे आमान परिवर्तन परियोजना) से क्षेत्र में सम्पर्क बढ़ेगा और इससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। इसके अलावा, प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजनाओं से उपभोक्ताओं और उद्योगों को काफी फायदा मिलेगा। अधिकारियों ने बताया कि पीएम मोदी प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी के अंतर्गत 116 करोड़ रुपये की लागत से ‘लाइट हाउस प्रोजेक्ट-चेन्नई’ के तहत निर्मित 1,152 मकानों का उद्घाटन भी करेंगे।

प्रमुख परियोजनाएं करेंगे देश को समर्पित

रेलवे: इस सेक्टर में 5 परियोजनाओं पर 2900 करोड़ रुपये खर्च होगे। इनमें प्रमुख हैं-
मदुरै : तेनी रेल आमान परिवर्तन : 75 किमी के इस रेल मार्ग पर 500 करोड़ खर्च होंगे, क्षेत्रीय पर्यटन व परिवहन में मदद मिलेगी।
तमबरम : चेंगलपट्टू ट्रैक : इस 30 किमी के ट्रैक को बिछाने पर 590 करोड़ खर्च होंगे, उपनगरीय परिवहन में मदद मिलेगी।

5 रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास : चेन्नई इगमोर, रामेश्वरम, मदुरै, कटपड़ी और कन्याकुमारी के रेलवे स्टेशनों को पुनर्विकास होगा। इसमें 1800 करोड़ लागत आएगी और यात्रियों को आधुनिक और बेहतर सुविधाएं मिलेंगी।

प्राकृतिक गैस पाइपलाइन 
115 किमी लंबे इन्नोर-चेंगलपट्टू सेक्शन और 271 किमी लंबे तिरुवलूर-बेंगलुरू सेक्शन पर प्राकृतिक गैस पाइप लाइन बिछाई जाएंगी। इन पर क्रमश: 850 और 910 करोड़ का खर्च आएगा। आम नागरिकों के साथ इसका फायदा तमिलनाडु, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में उद्योगों को भी होगा।

छह परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास
बेंगलुरू-चेन्नई एक्सप्रेस वे :
14870 करोड़ की यह परियोजना कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में लोगों को बेहतर परिवहन की सहूलियत देगी। बेंगलुरू से चेन्नई आने में तीन घंटे तक कम लगेंगे।
चेन्नई पोर्ट-मदुरवोयल डबल-डेक्कर सड़क : 21 किमी की इस 4 लेन सड़क परियोजना पर 5850 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इसके जरिए चेन्नई के बंदरगाह के लिए वाहनों को हर समय आवाजाही संभव होगी।
लॉजिस्टिक पार्क : चेन्नई में ही 1400 करोड़ के लॉजिस्टिक पार्क का भी शिलान्यास होगा। यह मल्टी मॉडल पार्क कई प्रकार के सामान की ढुलाई व संबंधित कार्यों में मदद करेगा।

विस्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज चेन्नई और हैदराबाद का दौरा करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी चेन्नई (Chennai) में 31,400 करोड़ रुपये से ज्यादा की ग्यारह परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे और उन्हें राष्ट्र के नाम समर्पित करेंगे। इसके लिए आज चेन्नई के जेएलएन इंडोर स्टेडियम में विशेष कार्यक्रम का आयोजन होगा।

इन परियोजनाओं की कुल लागत 31,400 करोड़ रुपये आंकी गई है। इनमें रेल, सड़क, बंदरगाह विकास से जुड़ी परियोजनाएं प्रमुख हैं। पीएम मोदी हैदराबाद में इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस (आईएसबी) के 20वें स्थापना दिवस समारोह में शरीक होंगे। उल्लेखनीय है कि 20 वर्ष पहले दो दिसंबर, 2001 को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने आईएसबी का उद्घाटन किया था, आज यह देश के प्रमुख प्रबंधन संस्थानों में शामिल है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 मई को शाम 5.10 बजे हैदराबाद से चैन्नई पहुंचेंगे। प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू बहुउद्देश्यीय इंडोर स्टेडियम में होने वाले कार्यक्रमों की शुभारंभ करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी कई विभिन्न रेलवे, राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं और केंद्र सरकार की कई परियोजनाओं का शुभारंभ करेंगे। शाम 7.40 बजे पीएम नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे। 

पिछले साल अन्नाद्रमुक को मात देकर द्रमुक के सत्ता संभालने के बाद से प्रधानमंत्री मोदी का यह पहला आधिकारिक दौरा है। प्रधानमंत्री 2,960 करोड़ रुपये की लागत से तैयार पांच परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। इस मौके पर तमिलनाडु के राज्यपाल आर एन रवि, मुख्यमंत्री एम के स्टालिन, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और अश्विनी वैष्णव भी मौजूद रहेंगे।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक, दक्षिण तमिलनाडु में 500 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से तैयार 75 किलोमीटर लंबी मदुरै-टेनी (रेलवे आमान परिवर्तन परियोजना) से क्षेत्र में सम्पर्क बढ़ेगा और इससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। इसके अलावा, प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजनाओं से उपभोक्ताओं और उद्योगों को काफी फायदा मिलेगा। अधिकारियों ने बताया कि पीएम मोदी प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी के अंतर्गत 116 करोड़ रुपये की लागत से ‘लाइट हाउस प्रोजेक्ट-चेन्नई’ के तहत निर्मित 1,152 मकानों का उद्घाटन भी करेंगे।

प्रमुख परियोजनाएं करेंगे देश को समर्पित


रेलवे: इस सेक्टर में 5 परियोजनाओं पर 2900 करोड़ रुपये खर्च होगे। इनमें प्रमुख हैं-

मदुरै : तेनी रेल आमान परिवर्तन : 75 किमी के इस रेल मार्ग पर 500 करोड़ खर्च होंगे, क्षेत्रीय पर्यटन व परिवहन में मदद मिलेगी।

तमबरम : चेंगलपट्टू ट्रैक : इस 30 किमी के ट्रैक को बिछाने पर 590 करोड़ खर्च होंगे, उपनगरीय परिवहन में मदद मिलेगी।

5 रेलवे स्टेशन का पुनर्विकास : चेन्नई इगमोर, रामेश्वरम, मदुरै, कटपड़ी और कन्याकुमारी के रेलवे स्टेशनों को पुनर्विकास होगा। इसमें 1800 करोड़ लागत आएगी और यात्रियों को आधुनिक और बेहतर सुविधाएं मिलेंगी।

प्राकृतिक गैस पाइपलाइन 

115 किमी लंबे इन्नोर-चेंगलपट्टू सेक्शन और 271 किमी लंबे तिरुवलूर-बेंगलुरू सेक्शन पर प्राकृतिक गैस पाइप लाइन बिछाई जाएंगी। इन पर क्रमश: 850 और 910 करोड़ का खर्च आएगा। आम नागरिकों के साथ इसका फायदा तमिलनाडु, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में उद्योगों को भी होगा।

छह परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास

बेंगलुरू-चेन्नई एक्सप्रेस वे :
14870 करोड़ की यह परियोजना कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में लोगों को बेहतर परिवहन की सहूलियत देगी। बेंगलुरू से चेन्नई आने में तीन घंटे तक कम लगेंगे।

चेन्नई पोर्ट-मदुरवोयल डबल-डेक्कर सड़क : 21 किमी की इस 4 लेन सड़क परियोजना पर 5850 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इसके जरिए चेन्नई के बंदरगाह के लिए वाहनों को हर समय आवाजाही संभव होगी।

लॉजिस्टिक पार्क : चेन्नई में ही 1400 करोड़ के लॉजिस्टिक पार्क का भी शिलान्यास होगा। यह मल्टी मॉडल पार्क कई प्रकार के सामान की ढुलाई व संबंधित कार्यों में मदद करेगा।



Source link