Karnataka: 10 महीने से बिजली विभाग के दफ्तर में अपने घर के मसाले पीस रहा यह शख्स, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

By | June 4, 2022


ख़बर सुनें

कई घंटों तक बिजली कटौती हमारे देश में कोई नई बात नहीं है। ग्रामीण इलाकों में तो ये आम बात है। हालांकि हमारे देश के लोग बिजली कटौती का भी कोई न कोई जुगाड़ निकाल ही लेते हैं, लेकिन कर्नाटक के शिवमोगा जिले के रहने वाले एक शख्स का अनोखा जुगाड़ सुनकर आपको हंसी आ जाएगी। बता दें कि शिवमोगा जिले के मंगोटे गांव के रहने वाले एम हनुमंथप्पा बिजली से जुड़े हुए अपने दैनिक काम जैसे मोबाइल चार्ज करना या मिक्सी में मसाला पीसना आदि मेस्कॉम कार्यालय में ही करते हैं। 

बिजली विभाग के अधिकारियों को भी नहीं है आपत्ति
कर्नाटक के इस व्यक्ति की ये अनोखी दास्तां अब इंटरनेट पर वायरल हो गई है। एम हनुमंथप्पा नाम का कर्नाटक का यह व्यक्ति लगभग हर दिन मैंगलोर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी लिमिटेड (मेस्कॉम) कार्यालय आता है। इंटरनेट पर वायरल हो रही शिवमोगा जिले के मंगोटे गांव का रहने वाले इस शख्स की तस्वीर में वो मेस्कॉम ऑफिस के पास मिक्सी, जार और कुछ मोबाइल चार्जर के साथ नजर आ रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये शख्स पिछले 10 महीने ने ऐसा ही कर रहा है। वहीं, उसके इस काम से बिजली विभाग के कर्मचारियों को भी कोई आपत्ति नहीं है। 

क्या है वजह
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हनुमंथप्पा के घर में महज 3-4 घंटे बिजली आती है, जबकि उनके पड़ोसियों के घरों में बिजली पूरे दिन आती है। इससे आजिज आकर  हनुमंथप्पा ने मेस्कॉम और बिजली विभाग के अधिकारियों से इसे लेकर संपर्क किया, लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हुई।

 एक दिन परेशान हनुमंथप्पाने मेस्कॉम के एक वरिष्ठ अधिकारी को फोन करके उससे पूछा कि वह घर पर मसाला कैसे पीसेगा और खाना कैसे बनाएगा, वह अपना मोबाइल कैसे चार्ज करेगा। इस पर अधिकारी ने उससे कहा कि मेस्कॉम के कार्यालय में जाओ और अपने मसाले पीस लो। इसके बाद उसने अधिकारी की बात को गंभीरता से लिया, तब से वह बिजली से जुड़े अपने सभी दैनिक काम बिजली कार्यालय में ही कर रहा है। 

विस्तार

कई घंटों तक बिजली कटौती हमारे देश में कोई नई बात नहीं है। ग्रामीण इलाकों में तो ये आम बात है। हालांकि हमारे देश के लोग बिजली कटौती का भी कोई न कोई जुगाड़ निकाल ही लेते हैं, लेकिन कर्नाटक के शिवमोगा जिले के रहने वाले एक शख्स का अनोखा जुगाड़ सुनकर आपको हंसी आ जाएगी। बता दें कि शिवमोगा जिले के मंगोटे गांव के रहने वाले एम हनुमंथप्पा बिजली से जुड़े हुए अपने दैनिक काम जैसे मोबाइल चार्ज करना या मिक्सी में मसाला पीसना आदि मेस्कॉम कार्यालय में ही करते हैं। 

बिजली विभाग के अधिकारियों को भी नहीं है आपत्ति

कर्नाटक के इस व्यक्ति की ये अनोखी दास्तां अब इंटरनेट पर वायरल हो गई है। एम हनुमंथप्पा नाम का कर्नाटक का यह व्यक्ति लगभग हर दिन मैंगलोर इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी लिमिटेड (मेस्कॉम) कार्यालय आता है। इंटरनेट पर वायरल हो रही शिवमोगा जिले के मंगोटे गांव का रहने वाले इस शख्स की तस्वीर में वो मेस्कॉम ऑफिस के पास मिक्सी, जार और कुछ मोबाइल चार्जर के साथ नजर आ रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये शख्स पिछले 10 महीने ने ऐसा ही कर रहा है। वहीं, उसके इस काम से बिजली विभाग के कर्मचारियों को भी कोई आपत्ति नहीं है। 

क्या है वजह

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हनुमंथप्पा के घर में महज 3-4 घंटे बिजली आती है, जबकि उनके पड़ोसियों के घरों में बिजली पूरे दिन आती है। इससे आजिज आकर  हनुमंथप्पा ने मेस्कॉम और बिजली विभाग के अधिकारियों से इसे लेकर संपर्क किया, लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हुई।

 एक दिन परेशान हनुमंथप्पाने मेस्कॉम के एक वरिष्ठ अधिकारी को फोन करके उससे पूछा कि वह घर पर मसाला कैसे पीसेगा और खाना कैसे बनाएगा, वह अपना मोबाइल कैसे चार्ज करेगा। इस पर अधिकारी ने उससे कहा कि मेस्कॉम के कार्यालय में जाओ और अपने मसाले पीस लो। इसके बाद उसने अधिकारी की बात को गंभीरता से लिया, तब से वह बिजली से जुड़े अपने सभी दैनिक काम बिजली कार्यालय में ही कर रहा है। 



Source link