IPL Final 29 May 2016: हैदराबाद बना आईपीएल चैंपियन, कोहली की विराट पारी गई बेकार

By | May 29, 2022


नई दिल्ली. आईपीएल 2022 अपने अंतिम पड़ाव पर आ पहुंचा है. आज 29 मई को इसका फाइनल ( IPL Final) खेला जाना है. फाइनल में नई नवेली टीम गुजरात टाइटंस का सामना टूर्नामेंट के पहले चैंपियन राजस्थान रॉयल्स (Gujarat Titans vs Rajasthan Royals) से है. यह इत्तफाक ही है कि आज से ठीक 6 साल पहले भी आईपीएल का फाइनल खेला गया था. 29 मई 2016 को खेला गया वो मैच बेहद रोमांचक रहा था, जिसमें रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर 200 रन बनाने के बावजूद लक्ष्य से 7 रन दूर रह गई थी. साल 2016 और 2022 के आईपीएल फाइनल में काफी समानताएं हैं. जानते हैं कैसे-

आईपीएल 2016 का फाइनल 29 मई को सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore vs Sunrisers Hyderabad) के बीच बेंगलुरू में खेला गया. हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का फैसला लिया. फॉर्म में चल रहे वॉर्नर ने अहम मुकाबले में फ्रंट से लीड करते हुए 38 गेंद पर 69 रन की तेजतर्रार पारी खेली. उन्हें युवराज सिंह (38), बेन कटिंग (39) और शिखर धवन (28) का अच्छा साथ मिला. इस तरह सनराइजर्स हैदराबाद ने फाइनल में 208 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया.

दिग्गजों से सजी बैंगलोर की टीम ने बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए शानदार शुरुआत की. कप्तान विराट कोहली ने साथी ओपनर क्रिस गेल के साथ 10.3 ओवर में 114 रन ठोक दिए. यह जोड़ी गेल के आउट होने से टूटी, जो 38 गेंद पर 76 रन बनाकर आउट हुए. टीम को दूसरा झटका विराट के आउट होने से लगा, लेकिन तब तक स्कोर 140 तक पहुंच चुका था. कोहली 35 गेंद पर 54 रन बनाकर आउट हुए.

जब विराट कोहली आउट हुए तो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर लक्ष्य से 69 रन दूर थी और जिसे हासिल करने के लिए उसके पास 43 गेंद बाकी थीं. एबी डिविलियर्स और केएल राहुल क्रीज पर थे और शेन वाटसन को मैदान पर आना बाकी था. यह ऐसी स्थिति थी, जो जीत में आसानी से तब्दील हो सकती थी. लेकिन आईपीएल तो जाना ही जाता है अनिश्चितता के लिए. आईपीएल का मजा ही इसी में है कि जो उम्मीद हो वह पूरा ना हो और असंभव से लगने वाला काम हो जाय. 2016 के फाइनल में भी यही हुआ.

एबी डिविलियर्स, केएल राहुल, शेन वाटसन के रहते हुए भी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर आखिरी 43 गेंद पर 69 रन नहीं बना सकी. राहुल, वाटसन 11-11 और एबी 5 रन बनाकर आउट हुए. स्टुअर्ट बिन्नी (9), क्रिस जॉर्डन (3) और इकबाल अब्दुल्ला (4) भी आयाराम-गयाराम की कहानी कहकर चले गए. सचिन बेबी (18 नाबाद) का संघर्ष भी बैंगलोर के काम ना आया और सनराइजर्स हैदराबाद ने गजब की वापसी करते हुए 8 रन से मुकाबला अपने नाम कर लिया.

अब उस संयोग की बात जो हैदराबाद और बैंगलोर के 2016 के मुकाबले को आईपीएल 2022 के फाइनल से जोड़ती है. इस बार आईपीएल का फाइनल गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच है. गुजरात टाइटंस पहली बार टूर्नामेंट में उतरी है. जाहिर है अगर वह जीती तो पहली बार चैंपियन बनेगी. 2016 में रॉयल चैलेंजर्स के पास भी अपना पहला खिताब जीतने का मौका था, लेकिन वह उसमें नाकाम हो गई थी. इस बार के फाइनल में दूसरी टीम राजस्थान रॉयल्स की है. अगर वह जीती तो दूसरी बार चैंपियन बनेगी. 2016 के फाइनल में बैंगलोर के सामने हैदराबाद की टीम थी. हैदराबाद ने ही तब ट्रॉफी पर कब्जा किया था. यह हैदराबाद फ्रेंचाइजी का दूसरा खिताब था. हालांकि, उसने यह खिताब अलग-अलग नामों से जीते. पहली बार 2009 में जब हैदराबाद की टीम फाइनल जीती तो उसका नाम डेक्कन चार्जर्स था. दूसरी बार जब वह चैंपियन बनी तो उसका नाम सनराइजर्स हैदराबाद हो चुका था.

Tags: Gujarat Titans, IPL 2022, On This Day, Rajasthan Royals, Royal Challengers Bangalore, Sunrisers Hyderabad



Source link