IPL 2022: केएल राहुल ने पंजाब किंग्स की गलती को लखनऊ के साथ भी दोहराया, दिग्गजों ने भी कप्तानी पर खड़े किए सवाल

By | May 26, 2022


नई दिल्ली. आईपीएल 2022 में नई टीम लखनऊ सुपर जायंट्स के कप्तान केएल राहुल का बल्ला जमकर बोला. उन्होंने इस सीजन के 15 मैच में 51 से अधिक के औसत से 616 रन बनाए. उनके बल्ले से 2 शतक और 4 अर्धशतक निकले. इतने चमकदार प्रदर्शन के बाद भी केएल राहुल की टीम लखनऊ सुपर जायंट्स फाइनल की दहलीज पर पहुंचकर चूक गई. लखनऊ को एलिमिनेटर मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के हाथों 14 रन से हार का सामना करना पड़ा. इसके बाद से केएल राहुल की बल्लेबाजी को लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं. पूर्व भारतीय क्रिकेटर संजय मांजरेकर ने केएल राहुल को लेकर कहा कि उन्होंने जो गलती पंजाब किंग्स का कप्तान रहते की थी, वही लखनऊ के साथ भी दोहराई और टीम को इसका खामियाजा उठाना पड़ा.

संजय मांजरेकर ने ईएसपीएनक्रिकइंफो पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ केएल राहुल की पारी को लेकर कहा, “पंजाब किंग्स के कप्तान रहते हुए भी राहुल ऐसे ही खेलते थे. मुझे लगता है कि वो तेजी से खेलने के बजाए क्रीज पर ज्यादा देर तक टिके रहने की कोशिश करते हैं. अगर मैं कोच रहूं तो उनके दिमाग में यह बात बैठाऊं कि आपसे मैच जिताने की अपेक्षा नहीं है. आप खुलकर बल्लेबाजी करें. अगर राहुल ऐसा करना शुरू कर देते हैं तो नतीजे अपने आप टीम के हक में आने लगेंगे. मुझे लगता है कि यही कारण है कि इंटरनेशनल लेवल पर उनका स्ट्राइक रेट आईपीएल के मुकाबले बेहतर है. क्योंकि उस मंच पर वो एक बल्लेबाज की तरह खेलते हैं. वो विराट कोहली, रोहित शर्मा जैसे बल्लेबाजों के साथ खेलते हैं. तब उनकी सोच मैदान पर जाकर सिर्फ बल्लेबाजी करने की होती है.”

राहुल को तेजी से रन बनाने चाहिए: मांजरेकर
मांजरेकर ने आगे कहा, “मेरा मानना है कि केएल राहुल का तेजी से रन बनाना उनके क्रीज पर ज्यादा देर तक टिके रहने से बेहतर होगा. हमने पहले भी देखा है कि जब राहुल खुलकर बल्लेबाजी करते हैं तो उसका फायदा टीम को मिलता है.”

शास्त्री ने भी केएल राहुल पर सवाल उठाए
मांजरेकर की तरह ही टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने भी केएल राहुल की इसी कमजोरी की तरफ ध्यान दिलाया. उन्होंने कहा, “केएल राहुल आरसीबी के खिलाफ और चांस ले सकते थे. क्योंकि हुडा एक तरफ से बड़े शॉट्स लगा रहे थे. वो चाहते तो 9 से 13वें ओवर के बीच आरसीबी के खिलाफ आक्रामक बल्लेबाजी कर सकते थे. क्योंकि हर्षल पटेल डेथ ओवर में गेंदबाजी के लिए आते. अगर तब लखनऊ ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर रन रेट को काबू में रखा होता था तो दबाव आरसीबी पर होता.”

IPL 2022 Eliminator: क्या हार के बाद केएल राहुल की मेंटॉर गौतम गंभीर ने लगाई क्लास? एंग्री लुक हो रहा वायरल

IPL 2022: विराट कोहली ने की रजत पाटीदार की तारीफ, कहा- बहुत पारियां देखी लेकिन…

केएल राहुल के स्ट्राइक रेट पर सवाल उठ रहे
बता दें कि एलिमिनेटर मुकाबले में लखनऊ सुपर जायंट्स की हार का बड़ा कारण केएल राहुल की बल्लेबाजी को माना जा रहा है. वैसे, राहुल ने इस मैच में 58 गेंद में 79 रन की पारी खेली. लेकिन 208 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए राहुल से इससे बेहतर स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी की उम्मीद थी.

उन्होंने अपने 50 रन पूरे के लिए 43 गेंद खेली. जो टी20 के लिहाज से बेहतर नहीं माना जाएगा. अगर राहुल शुरुआत में ही तेजी दिखाते तो आखिरी के ओवर में लखनऊ को ज्यादा रन का पीछा नहीं करना पड़ता और लखनऊ टीम का डेब्यू सीजन में ही फाइनल खेलने का सपना शायद पूरा हो जाता.

Tags: IPL 2022, KL Rahul, Lucknow Super Giants, Ravi shastri, Sanjay Manjrekar



Source link