French Open: वर्ल्ड नंबर-1 इगा स्वितेक दूसरी बार फ्रेंच ओपन जीतीं, 18 साल की कोको गॉफ का सपना टूटा

By | June 4, 2022


स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, पेरिस
Published by: रोहित राज
Updated Sat, 04 Jun 2022 08:12 PM IST

ख़बर सुनें

दुनिया की नंबर एक महिला टेनिस खिलाड़ी पोलैंड की इगा स्वितेक दूसरी बार फ्रेंच ओपन चैंपियन बन गई हैं। उन्होंने महिला एकल के फाइनल में शनिवार (चार जून) को अमेरिका की 18 वर्षीय कोको गॉफ को हराया। स्वितेक ने यह मुकाबला एक घंटे आठ मिनट में 6-1, 6-3 से अपने नाम कर लिया। स्वितेक इससे पहले 2020 में चैंपियन बनी थीं।

स्वितेक ने सेमीफाइनल में रूस की दारिया कासात्किना को हराया। स्वितेक इस मुकाबले को 6-2, 6-1 से अपने नाम करने में सफल रहीं। उन्होंने कोको गॉफ को फाइनल में हराकर एक विश्व रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। स्वितेक ने अपने करियर की लगातार 35वीं जीत हासिल की और महिलाओं में लगातार 35 मैच जीतने के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की। अमेरिका की दिग्गज टेनिस खिलाड़ी वीनस विलियम्स साल 2000 में लगातार 35 मैच जीती थीं।

हार के बाद रोने लगीं कोको गॉफ
कोको गॉफ की बात करें तो वो पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थीं। उन्हें हार का सामना करना पड़ा। स्वितेक के जीतते ही गॉफ रोने लगीं। काफी देर तक रोने के बाद वो शांत हुईं। कोको ऑस्ट्रेलियन ओपन और विम्बलडन ओपन के चौथे राउंड तक पहुंच चुकी हैं। 2019 (विम्बलडन) में पहली बार वो किसी  ग्रैंड स्लैम के चौथे राउंड में पहुंची थीं। उनका तीन साल का लंबा इंतजार फ्रेंच ओपन में खत्म हुआ। इस बार फाइनल में तो पहुंचीं, लेकिन जीत नहीं हासिल कर सकी। उन्हें अपने पहले ग्रैंड स्लैम खिताब के लिए इंतजार करना होगा।

विस्तार

दुनिया की नंबर एक महिला टेनिस खिलाड़ी पोलैंड की इगा स्वितेक दूसरी बार फ्रेंच ओपन चैंपियन बन गई हैं। उन्होंने महिला एकल के फाइनल में शनिवार (चार जून) को अमेरिका की 18 वर्षीय कोको गॉफ को हराया। स्वितेक ने यह मुकाबला एक घंटे आठ मिनट में 6-1, 6-3 से अपने नाम कर लिया। स्वितेक इससे पहले 2020 में चैंपियन बनी थीं।

स्वितेक ने सेमीफाइनल में रूस की दारिया कासात्किना को हराया। स्वितेक इस मुकाबले को 6-2, 6-1 से अपने नाम करने में सफल रहीं। उन्होंने कोको गॉफ को फाइनल में हराकर एक विश्व रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। स्वितेक ने अपने करियर की लगातार 35वीं जीत हासिल की और महिलाओं में लगातार 35 मैच जीतने के विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की। अमेरिका की दिग्गज टेनिस खिलाड़ी वीनस विलियम्स साल 2000 में लगातार 35 मैच जीती थीं।

हार के बाद रोने लगीं कोको गॉफ

कोको गॉफ की बात करें तो वो पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची थीं। उन्हें हार का सामना करना पड़ा। स्वितेक के जीतते ही गॉफ रोने लगीं। काफी देर तक रोने के बाद वो शांत हुईं। कोको ऑस्ट्रेलियन ओपन और विम्बलडन ओपन के चौथे राउंड तक पहुंच चुकी हैं। 2019 (विम्बलडन) में पहली बार वो किसी  ग्रैंड स्लैम के चौथे राउंड में पहुंची थीं। उनका तीन साल का लंबा इंतजार फ्रेंच ओपन में खत्म हुआ। इस बार फाइनल में तो पहुंचीं, लेकिन जीत नहीं हासिल कर सकी। उन्हें अपने पहले ग्रैंड स्लैम खिताब के लिए इंतजार करना होगा।



Source link