Delhi Weather: दिल्ली में राहत और आफत का बारिश, अलग-अलग हादसों में 10 घायल, 80 पेड़ गिरे, 100 फ्लाइट में देरी, 19 डायवर्ट

By | May 24, 2022


सार

मौसम विभाग ने मंगलवार को भी ऐसा ही मौसम रहने की संभावना जताई है। 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलेगी। वहीं बादलों के गरजने, बिजली चमकने की संभावना जताई है। 

ख़बर सुनें

दिल्ली में सोमवार को भारी बारिश और आंधी राहत और आफत दोनों लेकर आई। बारिश और आंधी से जहां लोगों को तेज गर्मी और लू से राहत मिली। वहीं, इसकी वजह से सुबह सड़क और यातायात भी प्रभावित हुआ। 60-90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली तेज हवाओं से अलग-अलग जगहों पर करीब 80 पेड़ गिर गए। करीब 100 फ्लाइट में देरी से चलीं, जबकि 19 फ्लाइट के रूट को डायवर्ट करना पड़ा। 

इसके अलावा छत और दीवार गिरने की अलग-अलग घटनाओं में करीब दस लोग घायल हो गए। मौसमी बदलाव का असर तापमान पर भी पड़ा। 2004 के बाद पहली बार न्यूनतम तापमान सबसे कम रिकॉर्ड किया गया। 2004 का न्यूनतम तापमान 16.7 डिग्री सेल्सियस और सोमवार सुबह का न्यूनतम तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि आने वाले दिनों में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे ही रहेगा।

मौसम विभाग का कहना है कि इस वक्त उत्तर पश्चिमी भारत में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इसका असर दिल्ली-एनसीआर पर पड़ रहा है। इसी वजह से सोमवार सुबह औसत से भारी स्तर की बारिश रिकॉर्ड की गई है। साथ ही 60-90 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी भी चली। इससे न्यूनतम तापमान में तेज गिरावट आई। आने वाले दिनों में भी न्यूनतम तापमान में ज्यादा इजाफा नहीं होगा। यह 20 डिग्री सेल्सियस के आस-पास बना रहेगा।

मौसम में आए इस तरह के बदलाव से बीते कुछ दिन से 42-44 डिग्री पारे का टॉर्चर झेल रही दिल्ली का मौसम सुहावना हो गया। इस सीजन में यह पहली मध्यम तीव्रता की आंधी थी। बारिश और आंधी के चलते सोमवार को दिल्ली के न्यूनतम तापमान में भारी गिरावट देखी गई है। न्यूनतम तापमान सोमवार सुबह 5:40 बजे करीब 29 डिग्री सेल्सियस था। अगले डेढ़ घंटे में करीब 7 बजे लुढ़कर 17 डिग्री सेल्सियस के करीब जा पहुंचा। न्यूनतम तापमान सामान्य से 9 डिग्री गिरकर 17.2 पहुंच गया। आयानगर में सबसे कम न्यूनतम तापमान 16.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस दौरान अधिकतम तापमान में भी गिरावट आई है। अधिकतम तापमान सामान्य से 8 डिग्री नीचे 31.5 डिग्री सेल्सियस रहा। रविवार को अधिकतम तापमान 39.3 और न्यूनतम तापमान 23.1 डिग्री दर्ज हुआ था।
 

आंधी और बारिश के कारण सोमवार को सबसे कम न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस रहा। इससे पहले एक मई 2004 को न्यूनतम तापमान 16.7 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं, दो मई 1982 को न्यूनतम तापमान 15.2 डिग्री सेल्सियस रहा था। यह अब तक का ऑल टाइम रिकॉर्ड है। जबकि बीते साल 22 मई को न्यूनतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

दिल्ली में सोमवार को सुबह 8.30 बजे तक 12.3 एमएम और शाम 5.30 बजे तक 0.3 एमएम बारिश रिकॉर्ड की गई। जबकि आयानगर में सुबह 8.30 बजे तक सर्वाधिक 52.2 एमएम, नजफगढ़ में 29 एमएम और पालम में 27.6 एमएम और लोदी रोड में 13.8 एमएम बारिश दर्ज की गई। 

मौसम विभाग ने मंगलवार को भी ऐसा ही मौसम रहने की संभावना जताई है। 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलेगी। वहीं बादलों के गरजने, बिजली चमकने की संभावना जताई है। हल्की बारिश होने की भी संभावना है। अधिकतम तापमान 34 डिग्री और न्यूनतम तापमान 19 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है। इसके बाद 27 मई से तापमान में बढ़ोतरी होनी शुरू होगी। 

विस्तार

दिल्ली में सोमवार को भारी बारिश और आंधी राहत और आफत दोनों लेकर आई। बारिश और आंधी से जहां लोगों को तेज गर्मी और लू से राहत मिली। वहीं, इसकी वजह से सुबह सड़क और यातायात भी प्रभावित हुआ। 60-90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली तेज हवाओं से अलग-अलग जगहों पर करीब 80 पेड़ गिर गए। करीब 100 फ्लाइट में देरी से चलीं, जबकि 19 फ्लाइट के रूट को डायवर्ट करना पड़ा। 

इसके अलावा छत और दीवार गिरने की अलग-अलग घटनाओं में करीब दस लोग घायल हो गए। मौसमी बदलाव का असर तापमान पर भी पड़ा। 2004 के बाद पहली बार न्यूनतम तापमान सबसे कम रिकॉर्ड किया गया। 2004 का न्यूनतम तापमान 16.7 डिग्री सेल्सियस और सोमवार सुबह का न्यूनतम तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि आने वाले दिनों में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे ही रहेगा।

मौसम विभाग का कहना है कि इस वक्त उत्तर पश्चिमी भारत में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इसका असर दिल्ली-एनसीआर पर पड़ रहा है। इसी वजह से सोमवार सुबह औसत से भारी स्तर की बारिश रिकॉर्ड की गई है। साथ ही 60-90 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी भी चली। इससे न्यूनतम तापमान में तेज गिरावट आई। आने वाले दिनों में भी न्यूनतम तापमान में ज्यादा इजाफा नहीं होगा। यह 20 डिग्री सेल्सियस के आस-पास बना रहेगा।

मौसम में आए इस तरह के बदलाव से बीते कुछ दिन से 42-44 डिग्री पारे का टॉर्चर झेल रही दिल्ली का मौसम सुहावना हो गया। इस सीजन में यह पहली मध्यम तीव्रता की आंधी थी। बारिश और आंधी के चलते सोमवार को दिल्ली के न्यूनतम तापमान में भारी गिरावट देखी गई है। न्यूनतम तापमान सोमवार सुबह 5:40 बजे करीब 29 डिग्री सेल्सियस था। अगले डेढ़ घंटे में करीब 7 बजे लुढ़कर 17 डिग्री सेल्सियस के करीब जा पहुंचा। न्यूनतम तापमान सामान्य से 9 डिग्री गिरकर 17.2 पहुंच गया। आयानगर में सबसे कम न्यूनतम तापमान 16.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इस दौरान अधिकतम तापमान में भी गिरावट आई है। अधिकतम तापमान सामान्य से 8 डिग्री नीचे 31.5 डिग्री सेल्सियस रहा। रविवार को अधिकतम तापमान 39.3 और न्यूनतम तापमान 23.1 डिग्री दर्ज हुआ था।

 



Source link