DC vs PBKS: मयंक अग्रवाल खत्म करेंगे पंजाब किंग्स के 8 साल के प्लेऑफ का सूखा, बस करना होगा ये काम

By | May 16, 2022


मुंबई. आईपीएल 2022 (IPL 2022) का 64वां मुकाबला कुछ देर बाद पंजाब किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला जाना है. प्लेऑफ की रेस में बने रहने के लिए दोनों ही टीमों के लिए यह मैच महत्वपूर्ण है. दिल्ली ने अब तक 12 में 6 मुकाबले जीते हैं. टीम अभी 12 अंक के साथ प्वॉइंट टेबल में 5वें नंबर पर है. पंजाब को भी 12 में से 6 मैच में जीत मिली है. उसके भी 12 अंक हैं, लेकिन नेट रनरेट के कारण वह 7वें स्थान पर है. यानी दोनों ही टीमों को 16 अंक तक पहुंचने के लिए बचे दोनों मैच जीतने होंगे. मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) को टी20 लीग के 15वें सीजन के शुरू होने के पहले पंजाब का कप्तान बनाया गया था. ऐसे में उन पर सभी की निगाहें हैं. टीम 8 साल से यानी 2014 से प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी है.

पंजाब किंग्स ने टी20 लीग में जीत के साथ शुरुआत की थी, लेकिन बीच में टीम की लय बिगड़ गई थी. अंतिम 5 में से 3 मैच जीतकर उसने नॉकआउट राउंड में पहुंचने की अपनी उम्मीद को बरकरार रखा है. टीम ने अंतिम मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर पर 54 रन से बड़ी जीत हासिल की थी. ऐसे में एक बार फिर टीम को जॉनी बेयरस्टो और लियाम लिविंगस्टोन से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी. शिखर धवन शानदार फॉर्म में हैं ही. लेकिन मयंक अब तक लय हासिल नहीं कर सके हैं.

तीन टीमों के 16 या उससे अधिक अंक

प्वाॅइंट टेबल की बात करें तो 3 टीमों के 16 या उससे अधिक अंक हैं. ऐसे में प्लेऑफ में जगह सुरक्षित करने के लिए 16 अंक होना जरूरी है. मुंबई और सीएसके बाहर हो चुके हैं. वहीं केकेआर और हैदराबाद 16 अंक तक नहीं पहुंच सकते हैं. यदि आज पंजाब की टीम दिल्ली को हरा देती है, तो ऋषभ पंत की अगुआई वाली दिल्ली की टीम भी 16 अंक तक नहीं पहुंच सकेगी. ऐसे में पंजाब दिल्ली के बाद 22 मई को सनराइजर्स हैदराबाद को भी हरा देती है, तो उसके प्लेऑफ की राह आसान हो जाएगी.

सिर्फ आरसीबी से है खतरा

पंजाब किंग्स यदि दोनों मैच जीत जाती है तो उसके रास्ते में सिर्फ एक ही टीम रोड़ा डाल सकती है और वह आरसीबी है. उसके अभी 13 मैच में 14 अंक है. उसे अंतिम मैच में 19 मई को गुजरात टाइटंस से भिड़ना है. उसका रनरेट अभी माइनस में है. ऐसे में उसे गुजरात पर बड़ी जीत दर्ज करनी होगी. लेकिन उसका नंबर-1 टीम के खिलाफ ऐसा करना मुश्किल है. ऐसे में पंजाब के नॉकआउट राउंड में पहुंचने की उम्मीद अधिक है, क्योंकि उसका नेट रनरेट प्लस में है.

IPL 2022: गुजरात टाइटंस का नंबर-1 पर रहना तय, 5 टीमों की उम्मीद खत्म! 3 जगह के लिए 4 टीमों में लड़ाई

आईपीएल के इतिहास की बात की जाए तो पंजाब की टीम अब तक सिर्फ 2 बार प्लेऑफ में पहुंच सकी है. पहली बार 2008 में, तब टीम सेमीफाइनल में हारी थी. फिर 2014 में उसे फाइनल में केकेआर से हार मिली थी. मुंबई और सीएसके आईपीएल इतिहास की 2 सबसे सफल टीमें हैं. लेकिन इनके बाहर होने के बाद से नए चैंपियन की उम्मीद बढ़ गई है. 2016 के बाद से टी20 लीग को नया चैंपियन नहीं मिला है. तब हैदराबाद ने टाइटल पर कब्जा किया था.

Tags: Delhi Capitals, IPL, IPL 2022, Mayank agarwal, Punjab Kings, Shikhar dhawan



Source link