CUET 2022: आवेदन की अंतिम तिथि 31 मई तक बढ़ाई, 11.5 लाख से अधिक ने कराया पंजीकरण

By | May 27, 2022


सार

यूजीसी प्रमुख ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए सीयूईटी स्कोर, न कि कक्षा 12 के अंक अनिवार्य होंगे, और केंद्रीय विश्वविद्यालय अपनी न्यूनतम पात्रता मानदंड तय कर सकते हैं।

ख़बर सुनें

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शुक्रवार को कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी)-यूजी के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 मई तक बढ़ाने की घोषणा की। 11.5 लाख से अधिक उम्मीदवारों ने पहले ही परीक्षण के लिए पंजीकरण कराया है।

यूजीसी के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने कहा कि सीयूईटी (यूजी)-2022 के लिए अपने ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने का अवसर देने के संबंध में उम्मीदवारों से प्राप्त अभ्यावेदन के मद्देनजर, हमने 27 मई से 31 मई तक आवेदन प्रक्रिया को फिर से खुला रखने का फैसला किया है।

यूजीसी प्रमुख ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए सीयूईटी स्कोर, न कि कक्षा 12 के अंक अनिवार्य होंगे, और केंद्रीय विश्वविद्यालय अपनी न्यूनतम पात्रता मानदंड तय कर सकते हैं।

छात्रों को एआईपीएचएस में प्रवेश लेने का अधिकार नहीं
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शुक्रवार को छात्रों को अखिल भारतीय सार्वजनिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य विज्ञान संस्थान (एआईपीएचएस) में प्रवेश लेने के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा कि स्वयंभू संस्थान को डिग्री देने का अधिकार नहीं है।

यूजीसी के सचिव रजनीश जैन ने कहा कि यह हमारे संज्ञान में आया है कि अखिल भारतीय सार्वजनिक और शारीरिक स्वास्थ्य विज्ञान संस्थान (एआईपीएचएस) जिसका कार्यालय अलीपुर, दिल्ली में है, यूजीसी अधिनियम, 1956 के घोर उल्लंघन में विभिन्न डिग्री पाठ्यक्रम चला रहा है। उल्लिखित संस्थान न तो यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त है न ही कोई डिग्री प्रदान करने का अधिकार है।

विस्तार

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शुक्रवार को कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (सीयूईटी)-यूजी के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 मई तक बढ़ाने की घोषणा की। 11.5 लाख से अधिक उम्मीदवारों ने पहले ही परीक्षण के लिए पंजीकरण कराया है।

यूजीसी के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार ने कहा कि सीयूईटी (यूजी)-2022 के लिए अपने ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने का अवसर देने के संबंध में उम्मीदवारों से प्राप्त अभ्यावेदन के मद्देनजर, हमने 27 मई से 31 मई तक आवेदन प्रक्रिया को फिर से खुला रखने का फैसला किया है।

यूजीसी प्रमुख ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए सीयूईटी स्कोर, न कि कक्षा 12 के अंक अनिवार्य होंगे, और केंद्रीय विश्वविद्यालय अपनी न्यूनतम पात्रता मानदंड तय कर सकते हैं।

छात्रों को एआईपीएचएस में प्रवेश लेने का अधिकार नहीं

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शुक्रवार को छात्रों को अखिल भारतीय सार्वजनिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य विज्ञान संस्थान (एआईपीएचएस) में प्रवेश लेने के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा कि स्वयंभू संस्थान को डिग्री देने का अधिकार नहीं है।

यूजीसी के सचिव रजनीश जैन ने कहा कि यह हमारे संज्ञान में आया है कि अखिल भारतीय सार्वजनिक और शारीरिक स्वास्थ्य विज्ञान संस्थान (एआईपीएचएस) जिसका कार्यालय अलीपुर, दिल्ली में है, यूजीसी अधिनियम, 1956 के घोर उल्लंघन में विभिन्न डिग्री पाठ्यक्रम चला रहा है। उल्लिखित संस्थान न तो यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त है न ही कोई डिग्री प्रदान करने का अधिकार है।



Source link