सिद्धू ने तेज की लॉबिंग: हाईकमान के निशाने पर नवजोत खेमे के 12 नेता, इस हफ्ते होगा नए मुखिया का एलान

By | April 7, 2022


अमर उजाला ब्यूरो, चंडीगढ़।
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Thu, 07 Apr 2022 12:36 AM IST

सार

नवजोत सिंह सिद्धू ने फिर से पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के लिए प्रदेश इकाई में लॉबिंग तेज कर दी है। लगातार बैठकें कर रहे हैं। उधर, हाईकमान सिद्धू खेमे के नेताओं की गतिविधियों पर भी लगातार नजर रख रहा है।

ख़बर सुनें

विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद प्रधान पद से हटाए गए नवजोत सिंह सिद्धू ने फिर से पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के लिए प्रदेश इकाई में लॉबिंग तेज कर दी है। वह लगातार अपने समर्थक नेताओं और विधायकों के साथ बैठकें कर रहे हैं। जिनमें हाईकमान ने पाया है कि 12 नेता और विधायक ऐसे हैं जो प्रत्येक मौके पर नवजोत सिद्धू के साथ दिखाई दे रहे हैं।

हाईकमान सिद्धू खेमे के इन नेताओं की गतिविधियों पर भी लगातार नजर रख रहा है। उधर, इस पद के लिए कई अन्य सीनियर नेताओं ने हाईकमान के समक्ष दावा पेश कर दिया है। इसे देखते हुए पार्टी सूत्रों ने बताया है कि हाईकमान इसी हफ्ते पंजाब के लिए नए प्रधान का एलान कर देगा। सूत्रों का यह भी कहना है कि नवजोत सिद्धू को दोबारा प्रधान पद नहीं मिलेगा।

सोनिया गांधी ने हाल ही में इस मुद्दे पर पंजाब के नेताओं से दिल्ली में बैठक की, जिसमें सभी नेताओं ने सिद्धू को लेकर साफ कर दिया कि पार्टी की इतनी बड़ी हार के लिए प्रधान की भूमिका भी अहम कारण रही है। इस बीच, सोनिया गांधी इसी हफ्ते पंजाब के नेताओं के साथ एक और बैठक करने जा रही हैं, जिसमें प्रदेश प्रधान के दावेदारों के नामों पर विचार होगा। माना जा रहा है कि इसी हफ्ते नए प्रधान के नाम का एलान कर दिया जाएगा।
 

सिद्धू ने हाईकमान पर दबाव बढ़ाने के प्रयास तेज किए
दूसरी ओर, नवजोत सिद्धू ने हाईकमान की बैठकों के समानांतर पंजाब में बैठकें करने के बाद अब बरगाड़ी मामले और चंडीगढ़ के मुद्दे पर अपनी सक्रियता बढ़ाते हुए हाईकमान पर दबाव बढ़ाने के प्रयास तेज कर दिए हैं। इस बीच, नए प्रधान के रूप में प्रदेश के कई सीनियर नेता अपना दावा पेश कर चुके हैं, जिसे देखते हुए हाईकमान प्रदेश इकाई में कोई नई गुटबाजी से बचने के लिए नए चेहरों पर भी विचार कर रहा है। फिलहाल जिन नेताओं ने दावेदारी पेश की है, उनमें सांसद रवनीत सिंह बिट्टू के अलावा पूर्व डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा के साथ-साथ विधायक अमरिंदर सिंह राजा वड़िं और प्रताप बाजवा का नाम शामिल है।

विस्तार

विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद प्रधान पद से हटाए गए नवजोत सिंह सिद्धू ने फिर से पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के लिए प्रदेश इकाई में लॉबिंग तेज कर दी है। वह लगातार अपने समर्थक नेताओं और विधायकों के साथ बैठकें कर रहे हैं। जिनमें हाईकमान ने पाया है कि 12 नेता और विधायक ऐसे हैं जो प्रत्येक मौके पर नवजोत सिद्धू के साथ दिखाई दे रहे हैं।

हाईकमान सिद्धू खेमे के इन नेताओं की गतिविधियों पर भी लगातार नजर रख रहा है। उधर, इस पद के लिए कई अन्य सीनियर नेताओं ने हाईकमान के समक्ष दावा पेश कर दिया है। इसे देखते हुए पार्टी सूत्रों ने बताया है कि हाईकमान इसी हफ्ते पंजाब के लिए नए प्रधान का एलान कर देगा। सूत्रों का यह भी कहना है कि नवजोत सिद्धू को दोबारा प्रधान पद नहीं मिलेगा।

सोनिया गांधी ने हाल ही में इस मुद्दे पर पंजाब के नेताओं से दिल्ली में बैठक की, जिसमें सभी नेताओं ने सिद्धू को लेकर साफ कर दिया कि पार्टी की इतनी बड़ी हार के लिए प्रधान की भूमिका भी अहम कारण रही है। इस बीच, सोनिया गांधी इसी हफ्ते पंजाब के नेताओं के साथ एक और बैठक करने जा रही हैं, जिसमें प्रदेश प्रधान के दावेदारों के नामों पर विचार होगा। माना जा रहा है कि इसी हफ्ते नए प्रधान के नाम का एलान कर दिया जाएगा।

 



Source link