समीक्षा बैठक: यूपी चुनाव में हार पर मायावती ने लिया बड़ा एक्शन, बसपा की सभी इकाइयों को भंग किया

By | March 27, 2022


अमर उजाला नेटवर्क, लखनऊ
Published by: ishwar ashish
Updated Sun, 27 Mar 2022 12:51 PM IST

सार

मायवती ने रविवार को बुलाई गई समीक्षा बैठक में बसपा की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है।

ख़बर सुनें

बसपा सुप्रीमो मायावती ने यूपी चुनाव में हार पर बड़ा एक्शन लिया है। उन्होंने रविवार को पार्टी की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है। उन्होंने हार के कारणों पर समीक्षा के लिए बैठक बुलाई है। जिसमें पार्टी पदाधिकारियों के साथ हारे हुए 402 प्रत्याशी भी बुलाए गए हैं।

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में बसपा प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों में से सिर्फ एक सीट पर ही जीत दर्ज कर सकी है। इस शर्मनाक प्रदर्शन के बाद राजनीतिक पंडितों का कहना है कि बसपा लगभग खत्म हो चुकी है। उसके वोटबैंक का एक बड़ा हिस्सा भी भाजपा और अन्य पार्टियों में शिफ्ट हो चुका है।

मायावती ने बैठक में हार की समीक्षा करने के लिए हारे हुए 402 प्रत्याशियों को भी बुलाया है। 2007 में प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के बाद 2022 में पार्टी के सिर्फ एक सीट पर ही सीमित हो जाने से सभी हैरान हैं।

इस बैठक में लोकसभा चुनाव 2024 के लिए भी रणनीति तय की जाएगी। 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा ने सपा के साथ गठबंधन कर लड़ा था और 10 सीटों पर जीत दर्ज की थी।

विस्तार

बसपा सुप्रीमो मायावती ने यूपी चुनाव में हार पर बड़ा एक्शन लिया है। उन्होंने रविवार को पार्टी की सभी इकाइयों को भंग कर दिया है। उन्होंने हार के कारणों पर समीक्षा के लिए बैठक बुलाई है। जिसमें पार्टी पदाधिकारियों के साथ हारे हुए 402 प्रत्याशी भी बुलाए गए हैं।

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में बसपा प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों में से सिर्फ एक सीट पर ही जीत दर्ज कर सकी है। इस शर्मनाक प्रदर्शन के बाद राजनीतिक पंडितों का कहना है कि बसपा लगभग खत्म हो चुकी है। उसके वोटबैंक का एक बड़ा हिस्सा भी भाजपा और अन्य पार्टियों में शिफ्ट हो चुका है।

मायावती ने बैठक में हार की समीक्षा करने के लिए हारे हुए 402 प्रत्याशियों को भी बुलाया है। 2007 में प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के बाद 2022 में पार्टी के सिर्फ एक सीट पर ही सीमित हो जाने से सभी हैरान हैं।

इस बैठक में लोकसभा चुनाव 2024 के लिए भी रणनीति तय की जाएगी। 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा ने सपा के साथ गठबंधन कर लड़ा था और 10 सीटों पर जीत दर्ज की थी।



Source link