महंगी सीएनजी के खिलाफ: दिल्ली-एनसीआर में कैब और ऑटो चालकों ने दी अनिश्चितकालीन हड़ताल की धमकी, सरकार से की यह मांग

By | April 7, 2022


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: Vikas Kumar
Updated Thu, 07 Apr 2022 06:07 PM IST

सार

दिल्ली ऑटो रिक्शा संघ के महासचिव राजेंद्र सोनी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सीएनजी के दाम में रोज हो रही बढ़ोतरी के कारण घर चलाना मुश्किल हो गया है।

ख़बर सुनें

लगातार बढ़ रहे पेट्रोल-डीजल और सीएनजी के दाम से लोगों का बजट बिगड़ गया है। वहीं अब दिल्ली के ऑटो और कैब ड्राइवरों ने धमकी दी है कि अगर सरकार उन्हें बढ़े हुए सीएनजी के दाम पर सब्सिडी नहीं देती है या फिर किराया नहीं बढ़ाया जाता है तो वो राजधानी में 18 अप्रैल से अनिश्चितकाल के लिए हड़ताल पर चले जाएंगे। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीएनजी के दाम में हो रहे इजाफे के विरुद्ध ऑटो, कैब और ड्राइवरों का संगठन 11 अप्रैल को दिल्ली सचिवालय और 18 अप्रैल को जंतर मंतर पर केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगा।  

सर्वोद्य ड्राइवर वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष रवि राठौर का कहना है कि दिल्ली-एनसीआर में उनके संगठन से करीब चार लाख ड्राइवर जुड़े हुए हैं। अगर जल्द ही सीएनजी के दाम में कटौती या फिर किराये में बढ़ोतरी नहीं होती है तो वह अनिश्चितकाल के लिए हड़ताल पर चले जाएंगे। उन्होंने कहा कि बीते सात-आठ साल से ओला और उबर के किराए में कोई बदलाव नहीं किया गया है। कल होने वाले प्रदर्शन में हम अनिश्चितकालीन हड़ताल का भी आह्वान करेंगे।

दिल्ली ऑटो रिक्शा संघ के महासचिव राजेंद्र सोनी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सीएनजी के दाम में रोज हो रही बढ़ोतरी के कारण घर चलाना मुश्किल हो गया है। हमने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर प्रति किलो सीएनजी पर 35 रुपये सब्सिडी देने का अनुरोध किया है। 11 अप्रैल को हम दिल्ली सचिवालय पर प्रतीकात्मक प्रदर्शन करेंगे, लेकिन अगर हमारी मांगें पूरी नहीं की जाती है तो 18 अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे। 

विस्तार

लगातार बढ़ रहे पेट्रोल-डीजल और सीएनजी के दाम से लोगों का बजट बिगड़ गया है। वहीं अब दिल्ली के ऑटो और कैब ड्राइवरों ने धमकी दी है कि अगर सरकार उन्हें बढ़े हुए सीएनजी के दाम पर सब्सिडी नहीं देती है या फिर किराया नहीं बढ़ाया जाता है तो वो राजधानी में 18 अप्रैल से अनिश्चितकाल के लिए हड़ताल पर चले जाएंगे। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीएनजी के दाम में हो रहे इजाफे के विरुद्ध ऑटो, कैब और ड्राइवरों का संगठन 11 अप्रैल को दिल्ली सचिवालय और 18 अप्रैल को जंतर मंतर पर केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगा।  

सर्वोद्य ड्राइवर वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष रवि राठौर का कहना है कि दिल्ली-एनसीआर में उनके संगठन से करीब चार लाख ड्राइवर जुड़े हुए हैं। अगर जल्द ही सीएनजी के दाम में कटौती या फिर किराये में बढ़ोतरी नहीं होती है तो वह अनिश्चितकाल के लिए हड़ताल पर चले जाएंगे। उन्होंने कहा कि बीते सात-आठ साल से ओला और उबर के किराए में कोई बदलाव नहीं किया गया है। कल होने वाले प्रदर्शन में हम अनिश्चितकालीन हड़ताल का भी आह्वान करेंगे।

दिल्ली ऑटो रिक्शा संघ के महासचिव राजेंद्र सोनी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सीएनजी के दाम में रोज हो रही बढ़ोतरी के कारण घर चलाना मुश्किल हो गया है। हमने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर प्रति किलो सीएनजी पर 35 रुपये सब्सिडी देने का अनुरोध किया है। 11 अप्रैल को हम दिल्ली सचिवालय पर प्रतीकात्मक प्रदर्शन करेंगे, लेकिन अगर हमारी मांगें पूरी नहीं की जाती है तो 18 अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे। 



Source link