फ्लैशबैक: देखते ही देखते अक्षय कुमार ने लगा दी 46वीं मंजिल से छलांग, बोले, किस्मत की खा रहा हूं

By | April 6, 2022


अक्षय कुमार की पिछली ‘बच्चन पांडे’ ने बॉक्स ऑफिस पर पानी तक नहीं मांगा और उनकी अगली फिल्म ‘पृथ्वीराज’ के बारे में अभी से चर्चा है कि ये अक्षय के करियर की सबसे बड़ी ओपनिंग लेने वाली फिल्म हो सकती है। अपने करियर में एक से बढ़कर एक सफल फिल्मों में काम करने वाले अक्षय कुमार ने फिल्म ‘पृथ्वीराज’ में तमाम एक्शन सीन्स किए हैं, हालांकि यशराज फिल्म्स की पॉलिसी के मुताबिक उन्हें खतरनाक स्टंट खुद करने की अनुमति नहीं मिली। वैसे अक्षय को एक्शन सीन्स में महारथ हासिल है। अपनी फिल्मों के खतरनाक से खतरनाक स्टंट सीन अक्षय कुमार खुद ही करते रहे हैं। आइए आपको सुनाते हैं अक्षय की फिल्म का एक दिलचस्प किस्सा…

महेश भट्ट का तंज

1998 में रिलीज हुई फिल्म ‘अंगारे’ में अक्षय कुमार के बहुत सारे खतरनाक स्टंट सीन अक्षय कुमार ने खुद किए हैं। इस फिल्म का एक खतरनाक सीन मुंबई के वर्सोवा इलाके में फिल्माया गया जिसे अक्षय कुमार ने खुद किया। हालांकि फिल्म के निर्माता नहीं चाहते थे कि वह सीन खुद अक्षय कुमार करें, क्योंकि अगर अक्षय कुमार को कुछ हो जाता तो फिल्म की शूटिंग रुक जाती और निर्माता का काफी नुकसान होता। इस फिल्म में साउथ के स्टार नागार्जुन के अलावा सोनाली बेंद्रे, पूजा भट्ट और परेश रावल जैसे और भी सितारे थे। जब अक्षय कुमार ने वह खतरनाक सीन खुद किया तो यूनिट के साथ साथ वहां पर  शूटिंग देख रहे दर्शकों की सांसें थम सी गई थीं। सीन करने के बाद जब अक्षय कुमार फिल्म के निर्देशक महेश भट्ट के पास आए तो उन्हें लगा कि महेश भट्ट भी तारीफ करेंगे। महेश भट्ट ने भी उनके एक्शन सीन की तारीफ तो की लेकिन, साथ ही ये भी कहा कि एक्टिंग कब करोगे?

क्या था फिल्म का खतरनाक सीन

‘अंगारे’ फिल्म का एक खतरनाक सीन था जिसमें 46वीं मंजिला बिल्डिंग से दूसरी बिल्डिंग तक अक्षय कुमार को छलांग लगानी थी। फिल्म के एक्शन डायरेक्टर अकबर बक्शी ने सीन फिल्माने की सारी तैयारी कर ली थी। प्लान था कि अक्षय कुमार वाला सीन किसी बॉडी डबल पर फिल्माया जाएगा, लेकिन अक्षय कुमार ने खुद वह सीन करने का फैसला किया। चूंकि फिल्म की शूटिंग आउटडोर वर्सोवा में हो रही थी तो शूटिंग देखने वालों की भीड़ भी काफी जमा हो गई। अक्षय कुमार का वह खतरनाक सीन देखते लोगों की सांसें थम सी गईं क्योंकि वह सीन इतना खतरनाक था कि जरा सी लापरवाही से कुछ भी हो सकता था। लेकिन अक्षय कुमार ने जब वह सीन शूट किया तो पूरा इलाका तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज गया। 

महेश भट्ट ने क्यों कहा कि एक्टिंग कब करोगे?

दरअसल फिल्म ‘अंगारे’ के ऐसे कई सीन थे, जिसमें हिंदी भाषा का सही उच्चारण करना था। लेकिन अक्षय कुमार सही उच्चारण के चक्कर में सीन पर अटक जाते थे और कई रीटेक के बाद भी जब सीन ओके नहीं होता था तब महेश भट्ट अक्षय कुमार का प्रोफाइल शॉट लेकर सीन पूरा करते ताकि डायलॉग को डबिंग में ठीक किया जा सके। इस फिल्म में ऐसे कई सीन देखने को मिलेंगे कि सीन अक्षय के डायलॉग का चल रहा है और रिएक्शन सामने वाले एक्टर का है। 

अक्षय कुमार मानते है कि उनका लक चलता है 

अक्षय खुद इस बात का खुलासा कई बार कर चुके है कि हिंदी सिनेमा में उनसे ज्यादा टैलेंटेड और हैंडसम एक्टर हैं, लेकिन अगर वो चल रहे हैं तो इसके पीछे उनका 100 प्रतिशत भाग्य है। अक्षय मानते हैं कि उनके डायलॉग बोलने का अंदाज बहुत ही सामान्य होता है। लेकिन उनके चाहने वालों से पूछें तो अक्षय का  एक्शन सीन्स में कोई जवाब नहीं है।



Source link