नाइजीरिया: दक्षिण-पूर्व इलाके में एक अवैध तेल रिफाइनरी परिसर में विस्फोट, 100 से ज्यादा लोगों की मौत

By | April 24, 2022


सार

लागोस स्थित ‘पंच’ अखबार के मुताबिक, मृतकों की संख्या सौ से ऊपर हो सकती है। बताया जा रहा है कि धमाके से लगी आग आसपास के इमारतों तक फैल गई है। इमो के राज्य सूचना आयुक्त डेक्लान एमेलुम्बा ने बताया कि शुक्रवार रात आग लगी तेजी से दो अवैध ईंधन भंडार तक फैल गई। उन्होंने कहा कि धमाके की वजह और मृतकों की सही संख्या का पता लगाया जा रहा है। 

ख़बर सुनें

दक्षिण-पूर्वी नाइजीरिया की एक अवैध तेल रिफाइनरी परिसर में विस्फोट हुआ। इस विस्फोट में 100 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि दर्जनों अन्य घायल हो गए। इमो राज्य के अधिकारियों और पुलिस ने यह जानकारी दी है।

लागोस स्थित ‘पंच’ अखबार के मुताबिक, मृतकों की संख्या सौ से ऊपर हो सकती है। बताया जा रहा है कि धमाके से लगी आग आसपास के इमारतों तक फैल गई है।

इमो के राज्य सूचना आयुक्त डेक्लान एमेलुम्बा ने बताया कि शुक्रवार रात आग लगी तेजी से दो अवैध ईंधन भंडार तक फैल गई। उन्होंने कहा कि धमाके की वजह और मृतकों की सही संख्या का पता लगाया जा रहा है। एमेलुम्बा ने कहा कि विस्फोट के कारण, मरने वालों, घायलों और क्षति की जांच की जा रही है।

इमो स्टेट पुलिस कमांड के प्रवक्ता माइकल अबट्टम ने कहा कि बहुत सारे लोग मारे गए हैं, मरने वाले सभी अवैध संचालक हैं। एक अधिकारी ने कहा कि इमो राज्य सरकार उस रिफाइनरी के मालिक की भी तलाश कर रही है जहां विस्फोट हुआ है और उसे वांछित व्यक्ति घोषित कर दिया गया है।

बता दें कि नाइजीरिया में अवैध रिफाइनरियां आम हैं जहां व्यवसाय संचालक अक्सर अधिकारियों की नजर से दूर, दूरदराज के क्षेत्रों में रिफाइनरियों की स्थापना करके नियमों और करों से बचते हैं। इस देश में यह प्रथा इतनी व्यापक है कि यह तेल समृद्ध नाइजर डेल्टा क्षेत्र में नाइजीरिया के कच्चे तेल के उत्पादन को भी प्रभावित कर रही है। नाइजीरिया अफ्रीका में कच्चे तेल का सबसे बड़ा उत्पादक है, लेकिन इसकी बहुत कम रिफाइनरियां हैं। इसके परिणामस्वरूप देश में अधिकांश गैसोलीन और अन्य ईंधन आयात किए जाते हैं।

विस्तार

दक्षिण-पूर्वी नाइजीरिया की एक अवैध तेल रिफाइनरी परिसर में विस्फोट हुआ। इस विस्फोट में 100 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि दर्जनों अन्य घायल हो गए। इमो राज्य के अधिकारियों और पुलिस ने यह जानकारी दी है।

लागोस स्थित ‘पंच’ अखबार के मुताबिक, मृतकों की संख्या सौ से ऊपर हो सकती है। बताया जा रहा है कि धमाके से लगी आग आसपास के इमारतों तक फैल गई है।

इमो के राज्य सूचना आयुक्त डेक्लान एमेलुम्बा ने बताया कि शुक्रवार रात आग लगी तेजी से दो अवैध ईंधन भंडार तक फैल गई। उन्होंने कहा कि धमाके की वजह और मृतकों की सही संख्या का पता लगाया जा रहा है। एमेलुम्बा ने कहा कि विस्फोट के कारण, मरने वालों, घायलों और क्षति की जांच की जा रही है।

इमो स्टेट पुलिस कमांड के प्रवक्ता माइकल अबट्टम ने कहा कि बहुत सारे लोग मारे गए हैं, मरने वाले सभी अवैध संचालक हैं। एक अधिकारी ने कहा कि इमो राज्य सरकार उस रिफाइनरी के मालिक की भी तलाश कर रही है जहां विस्फोट हुआ है और उसे वांछित व्यक्ति घोषित कर दिया गया है।

बता दें कि नाइजीरिया में अवैध रिफाइनरियां आम हैं जहां व्यवसाय संचालक अक्सर अधिकारियों की नजर से दूर, दूरदराज के क्षेत्रों में रिफाइनरियों की स्थापना करके नियमों और करों से बचते हैं। इस देश में यह प्रथा इतनी व्यापक है कि यह तेल समृद्ध नाइजर डेल्टा क्षेत्र में नाइजीरिया के कच्चे तेल के उत्पादन को भी प्रभावित कर रही है। नाइजीरिया अफ्रीका में कच्चे तेल का सबसे बड़ा उत्पादक है, लेकिन इसकी बहुत कम रिफाइनरियां हैं। इसके परिणामस्वरूप देश में अधिकांश गैसोलीन और अन्य ईंधन आयात किए जाते हैं।



Source link