दर्द से तड़प रहा था..पत्नी और बेटी ने उठाया, अश्विन ने बताया- कैसे सिडनी टेस्ट ड्रॉ कराया

By | June 3, 2022


नई दिल्ली. भारत ने 2020-21 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसी के घर में टेस्ट सीरीज जीती थी. यह जीत कई मायनों में खास थी. भारत को एडिलेड में हुए सीरीज के पहले टेस्ट में शर्मनाक हार झेलनी पड़ी थी. लेकिन, इसके बाद टीम इंडिया ने जबरदस्त पलटवार किया और सीरीज 2-1 से अपने नाम की. ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत के हीरो में से एक थे. उन्होंने सीरीज में गेंदबाजी तो अच्छी की ही थी. लेकिन, बल्ले से भी महत्वपूर्ण योगदान दिया था. इसमें सिडनी में हुआ तीसरा टेस्ट ड्रॉ कराने में अश्विन के रोल को कोई भूल नहीं सकता. उन्होंने इस मैच में हनुमा विहारी के साथ अहम पार्टनरशिप की थी.

अहम बात यह है कि अश्विन और विहारी दोनों सिडनी टेस्ट के दौरान चोट से जूझ रहे थे. लेकिन मैदान पर डटे रहे और 259 गेंद में 62 रन की पार्टनरशिप करते हुए सिडनी टेस्ट ड्रॉ कराया और सीरीज 1-1 से बराबर हुई. टीम इंडिया की इस शानदार जीत पर वेब सीरीज रिलीज होने जा रही है. इसके लॉन्च के दौरान अश्विन ने सिडनी टेस्ट के दौरान अपने और हनुमा विहारी के बीच हुई साझेदारी से जुड़ी कहानी सुनाई.

हनुमा और मैं चोट से जूझ रहे थे: अश्विन
उन्होंने कहा, “हम जैसे ही अंदर गए, तो बल्लेबाजी को लेकर सहज थे. हमें एहसास हो गया था कि हम किस तकलीफ से गुजर रहे हैं. वो (हनुमा) आगे नहीं आ पा रहे थे और बैकफुट पर ही बल्लेबाजी कर रहे थे. वो हैमस्ट्रिंग इंजरी से जूझ रहे थे. मैं जब क्रीज पर गया तो मैं भी तेज गेंदबाजों के खिलाफ आगे आकर नहीं खेल पा रहा था. तो उस परिस्थिति में मैंने उनसे कहा कि हम स्ट्राइक रोटेट करेंगे और देखेंगे कि इसका क्या फायदा हो रहा है?

अश्विन ने आगे कहा, “कभी-कभी वह तेज गेंदबाजों का सामना कर रहे थे और मैं स्पिनर को खेल रहा था और हमने इसी तरह कुछ ओवर बल्लेबाजी की. हम दोनों एक-दूसरे की मदद कर रहे थे.”

‘मैं दर्द से छटपटा रहा था’
सिडनी में पीठ की चोट के कारण गाबा टेस्ट नहीं खेलने वाले अश्विन ने खुलासा किया,”सिडनी टेस्ट के दौरान उनकी हालत खराब थी. मैं पेन किलर के साथ गेंदबाजी करने गया था और 13 या 14 ओवर फेंके. मैं दर्द के कारण फर्श पर लुढ़क रहा था. मेरी पत्नी और बच्चों ने मुझे खड़े होने में मदद की और फिर फिजियो मुझे चेक करने आए. मैं रेंगते हुए मैच में उतरा, लेकिन मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया.”

दो भारतीय दिग्गजों के करियर का हार के साथ हुआ ‘दि एंड’, एक दाग से हुआ सब मटियामेट

जेम्स एंडरसन की लॉर्ड्स टेस्ट में ‘चौके’ से वापसी, रिचर्ड हेडली के खास रिकॉर्ड की बराबरी की

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराया था
टीम इंडिया ने गाबा में ऑस्ट्रेलिया को हराकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी 2-1 से अपने नाम की थी. अश्विन इस सीरीज में भारत की तरफ से दूसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज थे. उन्होंने 3 टेस्ट में 12 विकेट हासिल किए थे.

Tags: Hanuma vihari, India vs Australia, R ashwin



Source link