गोरखपुर में दर्दनाक हादसा: नाव के पलटने से छह डूबे, बाहर खड़े ‘मसीहा’ ने तीन को बचाया, एक का शव बरामद, दो लापता

By | March 27, 2022


अमर उजाला नेटवर्क, गोरखपुर
Published by: Vikas Kumar
Updated Sun, 27 Mar 2022 10:40 PM IST

सार

पोखरे के पास मौजूद अनूप गौंड नामक युवक कुछ युवकों को डूबते देख कर पोखरे में कूद गया और बांस के सहारे युवराज, सत्यम और हिमांशू को पानी से बाहर निकाल कर जान बचा ली।

ख़बर सुनें

गीडा थाना क्षेत्र के बनगांवा गांव में स्थित पोखरे में डोंगी नाव पलटने से उस पर बैठे छह युवक डूब गए। बाहर खड़े एक युवक ने तीन युवकों को तैर कर पानी से बाहर निकाल लिया, जबकि दो डूब गए। एसडीआरएफ की टीम ने एक युवक का शव बरामद कर ली है और दूसरे की तलाश की जा रही है। 

गीडा थाना क्षेत्र की बनगांवा ग्राम पंचायत में गांव के पूरब में एक पुराना पोखरा है। जिसे पट्टे पर लेकर मछली पालन होता है। रविवार को दोपहर डेढ़ बजे के आसपास पोखरे के अंदर रखी एक नाव पर सवार हो कर युवराज पुत्र अमित 12 वर्ष, ननिहाल आए 12 वर्षीय सत्यम, 13 वर्षीय हिमांशू पुत्र किशोर, चंदन पुत्र सुभाष, 16 वर्षीय आकाश  पुत्र विशुन दयाल गौड़ और नंदेश्वर 18 वर्षीय पुत्र कृष्ण भान पोखरे में गए। गहरे पानी में जाते ही नाव पलट गई और उसमें सवार सभी युवक डूबने लगे। 

पोखरे के पास मौजूद अनूप गौंड नामक युवक कुछ युवकों को डूबते देख कर पोखरे में कूद गया और बांस के सहारे युवराज, सत्यम और हिमांशू को पानी से बाहर निकाल कर जान बचा ली। आकाश और नंदेश्वर पानी में डूब गए। घटना पर अधिक संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए और 112 नंबर को इसकी सूचना दी गई। 

पुलिस के पहुंचने के साथ ही ग्रामीण आकाश और नंदेश्वर की तलाश करने लगे। काफी प्रयास के बाद सफलता नहीं मिलने पर एसडीआरएफ की टीम मौके पर बुलाई गई। शाम को पौने चार बजे के आसपास आकाश का शव बरामद हो गया लेकिन नंदेश्वर का पता नहीं चल रहा है। पोखरे में युवक की तलाश हो रही है। मौके पर पुलिस, प्रशासन के अलावा अधिक संख्या में ग्रामीण मौजूद है।

विस्तार

गीडा थाना क्षेत्र के बनगांवा गांव में स्थित पोखरे में डोंगी नाव पलटने से उस पर बैठे छह युवक डूब गए। बाहर खड़े एक युवक ने तीन युवकों को तैर कर पानी से बाहर निकाल लिया, जबकि दो डूब गए। एसडीआरएफ की टीम ने एक युवक का शव बरामद कर ली है और दूसरे की तलाश की जा रही है। 

गीडा थाना क्षेत्र की बनगांवा ग्राम पंचायत में गांव के पूरब में एक पुराना पोखरा है। जिसे पट्टे पर लेकर मछली पालन होता है। रविवार को दोपहर डेढ़ बजे के आसपास पोखरे के अंदर रखी एक नाव पर सवार हो कर युवराज पुत्र अमित 12 वर्ष, ननिहाल आए 12 वर्षीय सत्यम, 13 वर्षीय हिमांशू पुत्र किशोर, चंदन पुत्र सुभाष, 16 वर्षीय आकाश  पुत्र विशुन दयाल गौड़ और नंदेश्वर 18 वर्षीय पुत्र कृष्ण भान पोखरे में गए। गहरे पानी में जाते ही नाव पलट गई और उसमें सवार सभी युवक डूबने लगे। 

पोखरे के पास मौजूद अनूप गौंड नामक युवक कुछ युवकों को डूबते देख कर पोखरे में कूद गया और बांस के सहारे युवराज, सत्यम और हिमांशू को पानी से बाहर निकाल कर जान बचा ली। आकाश और नंदेश्वर पानी में डूब गए। घटना पर अधिक संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए और 112 नंबर को इसकी सूचना दी गई। 

पुलिस के पहुंचने के साथ ही ग्रामीण आकाश और नंदेश्वर की तलाश करने लगे। काफी प्रयास के बाद सफलता नहीं मिलने पर एसडीआरएफ की टीम मौके पर बुलाई गई। शाम को पौने चार बजे के आसपास आकाश का शव बरामद हो गया लेकिन नंदेश्वर का पता नहीं चल रहा है। पोखरे में युवक की तलाश हो रही है। मौके पर पुलिस, प्रशासन के अलावा अधिक संख्या में ग्रामीण मौजूद है।



Source link